• kewal sethi

बजट कटौती

i remember that in जीम eighties, the madhya pradesh government had made a habit of announcing a cut of ten percent in the budget for all departments. the finance secretary was in charge of enforcing these cuts.

the comedy arose when he brought this habit of ten percent cut to home. i have put this in a poem. here it is.

बजट कटौती

(अफसर जब दफतर का काम करता है तो घर भी दफतर की ही समस्याओं को ले जाता है। वह वहाँ भी उस की प्रतिक्रिया तय करती हैं। इसी का एक उदाहरण)


बीवी बोली एफ एस से कुछ सुन रहे हैं आप

या दफतर के ख्यालों में ही खोये रहते हैं जनाब

मुझे अगले सप्ताह ही जाना है अपने मायके

पी ए को कह देना लखनऊ की सीट बुक करा दे

अब ऐसे नाक भौं मत सिकोड़ो नया नहीं है इरादा

चार साल बाद आ रहे हैं अमरीका से अपने भैया

भाभी भतीजों से हम जा कर गप्पें लड़ायें गे

वह कहें गी अमरीका की हम भोपाल का बतायें गे

अब इस में बिगड़ने की क्या बात है भला

साल के शुरू में ही तुम को दिया था मैं ने बता

एफ एस बोले तुम गल्त समझी हो मुझे डियर

तुम्हारे मायके जाने का प्रोग्राम है बिल्कुल क्लीयर

पर जानती हो आज कल क्या हाल है

एक तरफ महंगाई दूसरी ओर सूखे की मार है

सरकार की हालत पतली है दिया है यह संदेश

दस प्रतिशत कटौती का हो गया है जारी आदेश

छोड़ो अपना राग पुराना मिलाओ मेरे सुर में सुर

दस प्रतिशत कटौती देखते हुए हो आओ तुम कानपुर

अगले साल अेावरड्राफ्ट न रहा तो लखनऊ जायें गे

अगर सरप्लस हुआ बजट तो बरेली की टिकट कटायें गे

(15.4.88)

2 views

Recent Posts

See All

चुनावी चर्चा बैठक में जब मिल बैठे लोग लुगाई चार होने लगी तब चल रहे चुनाव की बात पॉंच राज्यों में चुनाव की मची है धूम सब दल के नेता चारों ओर रहे हैं घूम किस का पहनाई जाये गी वरमाला किस सर सेहरा बंधे गा

चौदह दिन का वनवास मेरे एक मित्र का भाई है अमरीका में प्रवासी और था वह मेरा भी दोस्त, हम थे सहपाठी उसे भारत आना था, यह खबर थी उस की आई पर उस ने उस के बाद कोई खबर नहीं भिजवाई मित्र को फोन किया क्या बदल

the farm laws it happened sitting idle on a rainy day with not a single meeting in the way the memory of a saying long ago said came into mind and started a thread how the income of farmers be doubled